खड़े होकर किए जाने वाले योगासन

पादहस्तासन सिर से लेकर पैर तक पूरे हिस्से पर प्रभाव डालता है। 

पादहस्तासन

अर्ध चक्रासन

अर्ध चक्रासन पैरों, पेट, नितंबों, रीढ़, कंधे के ब्लेड, ग्लूट्स को ताकत देता है। 

वृक्षासन 

वृक्षासन शरीर में संतुलन का सुधार लाता है |

त्रिकोणासन

त्रिकोणासन के अभ्यास से चिंता, तनाव, कमर और पीठ का दर्द गायक हो जाता है ।

नटराजसन 

नटराजसन  जांघ, कूल्हे, टखने और सीना स्ट्रेच होकर मजबूत बनता है।

वीरभद्रासन

वीरभद्रासन छाती को खोलता है, जिससे आपके लिए सांस लेने में आसानी हो जाती है।

अधोमुख श्वानासन   

अधोमुख श्वानासन पेट की निचली मांसपेशियों को मजबूत बनाता है | 

ताड़ासन शारीरिक और मानसिक संतुलन का विस्तार करता है ।

ताड़ासन   

 प्रसार पादहस्तासन

 प्रसार पादहस्तासन पेट के अंगों को उत्तेजित करता है | 

ऐसी ओर जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें |

Vedic Shakti Yog