लेट कर किए जाने वाले कुछ ऐसे आसन जिन्हें आपको अपने योगाभ्यास में अवश्य जोड़ना चाहिए |

सर्वांगासन

सर्वांगासन हाथों व कन्धों को मज़बूत बनाता है और पीठ को अधिक लचीला बनाता है।

चक्रासन

चक्रासन रीढ़ की हड्डी लचीली और मजबूत बनती हैं।

सेतुबंधासन

सेतुबंधासन पेट के अंगों, फेफड़ों और थायराइड को उत्तेजित करता है |

पवनमुक्तासन

पवनमुक्तासन के नियमित अभ्यास से आप खुद को शांत, खुश और शरीर में उर्जा महसूस करेंगे।

विपरीत करणी

विपरीत करणी हर दिन इसे करने से urinary disorders से बचाव होता है।

मत्स्यासन

मत्स्यासन से पूरा शरीर मजबूत बनता है। गला, छाती, पेट की तमाम बीमारियाँ दूर होती हैं। 

नौकासन

नौकासन कमर व पेट की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है।

सुप्त मत्स्येन्द्रासन

सुप्त मत्स्येन्द्रासन पीठ और नितंब की मांसपेशियों में खिंचाव लाता है।

हलासन

हलासन मेटाबॉलिज्म बढ़ाता है और वजन घटाने में मदद करता है।

 सुप्त पवनमुक्तासन

सुप्त पवनमुक्तासन अपच और वायु विकारों को नष्ट करता है।

ऐसी और अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें ।

Click Here